Ajay-Atul - Abhi Mujh Mein Kahin Best Lyric, Agneepath, Priyanka Chopra, Hrithik, Sonu Nigam

"Abhi Mujhe Mein Kahin" बॉलीवुड फिल्म "अग्निपथ" (Agneepath) से हैं। बॉलीवुड (Bollywood) की यह एक्शन ड्रामा फिल्म 26 जनवरी 2012 को रिलीज हुई थी। अभी मुझ में कहीं के बोल गीतकार अमिताभ भट्टाचार्य ने लिखे हैं। बॉलीवुड सिंगर सोनू निगम ने अभी मुझ में कहीं गाना गाया है.....

Song: Abhi Mujh Mein Kahin
Movie: Agneepath
Lyricist: Amitabh Bhattacharya
Singer: Sonu Nigam
Composer: Ajay-Atul
Label: Sony Music 
Cast: Hritik Roshan, Sanjay Dutt, Rishi Kapoor, Priyanka Chopra, om puri 
Release Date: 26 January 2012.

अभी मुझमें कहीं LYRICS :
अभी मुझ में कहीं..
बाकी थोड़ी सी है जिन्दगी..
जागी धड़कन नई
जाना ज़िन्दा हूं मैं तो अभी
कुछ ऐसी लगन इस लम्हे में है
ये लम्हा कहाँ था मेरा
अभी है सामने
इसे छु लूं ज़रा
मर जाऊं या जी लूं ज़रा
खुशियाँ चूम लूं
या रो लूं ज़रा
मर जाऊं या जी लूं ज़रा

धूप में जलते हुए तन को
छाया पेड़ की मिल गयी
रूठे बच्चे की हंसी जैसे 
फुसलाने से फिर खिल गयी
रूठे बच्चे की हंसी जैसे 
फुसलाने से फिर खिल गयी
कुछ ऐसा ही महसुस दिल को हो रहा
बरसों के पुराने ज़ख्मों पे 
मरहम लगा सा है
कुछ एहसास है, इस लम्हे में है

ये लम्हा कहाँ था मेरा
अभी है सामने
इसे छु लूं ज़रा
मर जाऊं या जी लूं ज़रा
खुशियाँ चूम लूं
या रो लूं ज़रा

डोर से टूटी पतंग जैसी 
थी ये जिंदगानी मेरी
आज हो  कल मेरा ना हो
हर दिन थी कहानी मेरी
एक बंधन नया पीछे से मुझको बुलाये
आने वाले कल की 
क्यूँ फ़िकर मुझको सता जाये
इक ऐसी चुभन इस लम्हें में है

ये लम्हा कहाँ था मेरा
अभी है सामने
इसे छु लूं ज़रा
मर जाऊं या जी लूं ज़रा
खुशियाँ चूम लूं
या रो लूं ज़रा
मर जाऊं या जी लूं ज़रा.

Abhi mujh mein kahin
Baaki thodi si hai zindagi
Jagi dhadkan nayi
Jaana zinda hoon 
main toh abhi
Kuch aisi lagan 
iss lamhe mein hai
Ye lamha kahaan tha mera

Ab hai saamne
Issey chhoo loon zaraa
Mar jaaoon ya jee loon zaraa
Khushiyaan choom loon
Yaa ro loon zaraa
Mar jaaun ya jee loon zaraa

Ho o.. abhi mujh mein kahin
Baaqi thodi si hai zindagi

Ho.. dhoop mein 
jalte huye tann ko
Chhaya pedh ki mill gayi
Roothe bachche ki hansi jaise
Phuslaane se phir khill gayi
Kuchh aisa hi abb mehsoos 
Dil ko ho rahaa hain
Barson ke purane zakhm pe 
Marham laga sa hain

Kuch aisa rahem, 
Iss lamhe mein hai
Ye lamha kahaan tha mera
Ab hai saamne
Issey chhoo loon zara
Mar jaaoon ya jee loon zara
Khushiyaan choom loon
Yaa ro loon zaraa
Mar jaaun yaa jee loon zaraa

Dor se tooti patang jaisi, 
Thi ye zindagani meri
Aaj ho kal ho mera naa ho
Har din thi kahani meri
Ik bandhan naya peechhe se 
Abb mujhko bulaaye
Aane waley kal ki kyun fikar 
Mujhko sata jaaye
Ik aisi chubhan 
Iss lamhe me hai
Ye lamha kahaan tha mera aa

Ab hain saamne
Issey chhoo loon zara
Mar jaaoon ya jee loon zara
Khushiyaan choom loon
Yaa ro loon zaraa
Mar jaaoon ya jee loon zara

आपकी प्रतिक्रिया क्या है?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow