मन की शांति के लिए क्या करना चाहिए, जानिए यह उपाय

हमारे मन का तनाव हमारी जीवनशैली का एक हिस्सा बन गया है। इस कारण डिप्रेशन जैसी कई मानसिक बीमारियां हमारे शरीर में आने लगती है और हम कमज़ोर महसूस भी करने लगते हैं। कुछ दिए गए उपाय अपना कर आप तनाव को भी काफी हद तक दूर रख सकते हैं और खुश रह सकते हैं।

मन की शांति के लिए क्या करना चाहिए, जानिए यह उपाय

हमारे मन का तनाव हमारी जीवनशैली का एक हिस्सा बन गया है। इस कारण डिप्रेशन जैसी कई मानसिक बीमारियां हमारे शरीर में आने लगती है और हम कमज़ोर महसूस भी करने लगते हैं। कुछ दिए गए उपाय अपना कर आप तनाव को भी काफी हद तक दूर रख सकते हैं और खुश रह सकते हैं।

कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी हो

How can you ensure your nonverbal communication is effective?

छवि स्रोत ProfessionalLearning

एक स्वस्थ जीवन बिताने के लिए सबसे जरूरी है कि आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी हो। यानी आप अपनी बात दूसरों के सामने अच्छीतरह रख सकें। कई बार ऐसा होता है कि किसी व्यक्ति से आपका सही संवाद न हो पाने की वजह से गलतफहमियां पैदा हो जाती हैं, जिसका असर आपके संबंधों पर भी पड़ता है। ऐसे में आपका मूड भी खराब रहता है और एक-दूसरे को देखते ही आप गुस्से में भी आ जाते हैं। आपकी सेहत पर इसका बहुत गहरा असर पड़ता है। इसलिए जरूरी है कि आपकी संवाद क्षमता अच्छी हो। इससे आपके संबंधों में मिठास बनी रहेगी और तनाव एक बड़ा कारण आपसे कोसों दूर रहेगा।

डायरी लिखने की आदत बनाएं

How to Write A Diary

छवि स्रोत WriteDiary

अगर आप सोचते हैं कि अब आपकी उम्र डायरी या कोई लेख लिखने की नहीं है तो गलत सोच रहे हैं। डायरी या लेख लिखने की कोई उम्र नहीं होती। थोड़ी इच्छा शक्ति की जरूरत होती है। फिर आगे का काम आसान हो जाता है। और इसके फायदे अनेक हैं। ऐसा करने से आपका मन खुश रहेगा, क्योंकि जब आप कोई भी डायरी या लेख लिखने बैठते हैं तो आपका दिमाग उस विषय पर चिंतन करने और उसे और निखारकर लिखने में व्यस्त हो जाता है, जिससे आप अपनी सारी परेशानियों को भूल जाते हैं। इसके लिए सबसे अच्छा तरीका है कि एक पेपर लें और अपने मन के सारे विचार उस पर खूबसूरती से उतारते चले जाएं। ऐसा करने से आपका मन खुश रहेगा और आपकी सेहत भी अच्छी रहेगी।

अच्छा और पौष्टिक खाना खाएं

Only 7.4 Percent Children In Bengaluru Get Adequate Diet - बेंगलूरु के 7.4  फीसदी बच्चों को ही पौष्टिक आहार नसीब | Patrika News

छवि स्रोत PatrikaNews

कहा जाता है कि स्वस्थ मन में ही ईश्वर का वास होता है। जब आप स्वस्थ होते हैं तो आपका मन भी खुश रहता है। माना जाता है कि अलसी के तेल और अखरोट में पाया जाने वाला ओमेगा-3 फैट आपको ग्लोइंग स्किन देने और तनाव से लड़ने में मदद तो करता ही है, शरीर में गर्मी होने से बचाता है। यानी स्वस्थ रहने के लिए जरूरी है कि आप अच्छा और पौष्टिक खाना खाएं।

खुद को सक्रिय रखें

एक स्वस्थ और खुशहाल जीवन जीने के लिए आपको खुद को सक्रिय रखना चाहिए। दूसरों पर निर्भर रहकर आप टेंशन में रहेंगे, क्योंकि वह आपके काम को आपकी ही तरह कर दे, यह जरूरी नहीं। तो क्यों न खुद को सक्रिय रखा जाए और अपने अधिक से अधिक काम खुद ही करने की कोशिश की जाए।

सुबह सैर पर जाएं

How 15 minutes of brisk walking first thing in the morning can energize  your day! - The Pacer Blog: Walking, Health and Fitness

छवि स्रोत PacerBlog

स्वस्थ रहने के लिए सुबह के समय सूरज की किरणें और स्वच्छ हवा बहुत लाभदायक होती है। सुबह के समय सूरज की किरणों से निकलने वाला विटामिन डी हमारे शरीर और सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है। कोशिश करें कि अपने टाइम-टेबल में मॉर्निग वॉक के लिए अलग से समय रखें।

नकारात्मक चीजों से बचें

अक्सर जब भी हम किसी नकारात्मक चीज या व्यक्ति से मिलते हैं तो हमारा ब्लड-प्रेशर हाई हो जाता है और हम डिप्रेस्ड फील करते हैं। यह स्थिति हमारी सेहत पर सीधा असर डालती है। ऐसे में अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं तो अपने आसपास से निगेटिव चीजों और व्यक्तियों को दूर रखें। ऐसा करने से आप खुश रहेंगे और स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा।

ईश्वर का ध्यान करें

अपनी व्यस्त दिनचर्या में से थोड़ा समय ईश्वर की पूजा-पाठ के लिए भी निकालें। कहते हैं कि जो सुख और शांति पूजा-पाठ करने से मिलती है, वह किसी और चीज से नहीं मिलती। पूजा-पाठ करने से आपका मन भी शांत रहेगा और आपको आत्मिक शांति भी मिलेगी।

आपकी प्रतिक्रिया क्या है?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow